श्री बांके बिहारी आरती | Shri Banke Bihari Teri Aarti Gaun

नमस्कार मित्रों !
यहाँ हम आपके लिए प्रस्तुत करते हैं श्री बांके बिहारी जी की सबसे लोकप्रिय आरती जिसका शीर्षक है बांके बिहारी तेरी आरती गाउँ। यह आरती बांके बिहारी जी की सर्वाधिक गाई जाने वाली आरती है। श्री बांके बिहारी तेरी आरती गाउँ अत्यधिक मधुर व कर्णप्रिय आरती है , जिसके गायन से ह्रदय प्रफुल्लित हो उठता है। विश्वप्रसिद्ध ठाकुर श्री बाके बिहारी जी की कृपा प्राप्त कर दारिद्य भी सम्राट बन जाता है। अतः एक सुखी एवं आनन्दित जीवन व्यतीत करने हेतु श्री बांके बिहारी जी कृपा प्राप्ति अत्यंत आवश्यक है। यदि आप भी अपने जीवन में सौभाग्य की वर्षा चाहते हैं तो श्री बांके बिहारी जी का ध्यान कर इस आरती का गायन अवश्य करें।

बांके बिहारी तेरी आरती गाऊं लिरिक्स / Shri Banke Bihari Teri Aarti Gaun Lyrics Hindi :

श्री बाँकेबिहारी की आरती

श्री बाँकेबिहारी तेरी आरती गाऊँ।

कुन्जबिहारी तेरी आरती गाऊँ।

श्री श्यामसुन्दर तेरी आरती गाऊँ।

श्री बाँकेबिहारी तेरी आरती गाऊँ॥

मोर मुकुट प्रभु शीश पे सोहे।

प्यारी बंशी मेरो मन मोहे।

देखि छवि बलिहारी जाऊँ।

श्री बाँकेबिहारी तेरी आरती गाऊँ॥

चरणों से निकली गंगा प्यारी।

जिसने सारी दुनिया तारी।

मैं उन चरणों के दर्शन पाऊँ।

श्री बाँकेबिहारी तेरी आरती गाऊँ॥

दास अनाथ के नाथ आप हो।

दुःख सुख जीवन प्यारे साथ हो।

हरि चरणों में शीश नवाऊँ।

श्री बाँकेबिहारी तेरी आरती गाऊँ॥

श्री हरि दास के प्यारे तुम हो।

मेरे मोहन जीवन धन हो।

देखि युगल छवि बलि-बलि जाऊँ।

श्री बाँकेबिहारी तेरी आरती गाऊँ॥

आरती गाऊँ प्यारे तुमको रिझाऊँ।

हे गिरिधर तेरी आरती गाऊँ।

श्री श्यामसुन्दर तेरी आरती गाऊँ।

श्री बाँकेबिहारी तेरी आरती गाऊँ॥

श्री बाके बिहारी जी आरती के लाभ / Benefits of Shri Bankey Bihari Aarti :

  • श्री बांके बिहारी जी की आरती का गायन करने से व्यक्ति सदैव आनंदित रहता है।
  • इस आरती के गायन से जातक को मानसिक शांति का अनुभव होता है।
  • पारिवारिक कलह के निवारण हेतु भी श्री बांके बिहारी आरती एक अत्यंत ही प्रभावशाली व सिद्ध उपाय है।
  • समस्त प्रकार की आर्थिक समस्याओं में भी इस आरती का विशेष प्रभाव दिखता है।
  • निःसन्तान दंपत्ति यदि भक्तिभाव से श्री बांकेबिहारी जी का ध्यान कर इस आरती का गायन करते हैं तो शीघ्र ही श्री बांके बिहारी जी की कृपा से उन्हें एक गुणी सन्तान की प्राप्ति होती है।

श्री बाके बिहारी जी आरती हिंदी पीडीऍफ़ / Shri Bankey Bihari Aarti PDF in Hindi डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए हुए डाउनलोड बटन पर क्लिक करें।

Leave a Comment